गेस्ट हाउस हत्याकांड में कॉल गर्ल का अहम रोल, खोले कई राज, 4 हुए गिरफ्तार।

हरिद्वार/ तुषार गुप्ता

श्रवणनाथ नगर के गेस्ट हाउस में 5 सितंबर की रात जो हुआ वो अभी तक साफ नही हो पाया है। इस दिन गेस्ट हाउस में एक व्यक्ति की हत्या कर शव बिल्केश्वर मार्ग पर फेंके जाने के मामले का खुलासा करते हुए पुलिस ने चार आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया है। इस पूरे हत्याकांड में एक कॉल गर्ल का भी किरदार सामने आ रहा है ।लेकिन हत्याकांड के मुख्य आरोपी गेस्ट हाउस के संचालक सुरेश चंद्र की तलाश में पुलिस उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में डेरा डाले हुए हैं।

5 सितंबर को बिल्केश्वर मार्ग पर एक युवक का शव पड़ा मिला ।शव पर किसी तरह के निशान नहीं थे ।लेकिन उसके हाथ पर अंकित उर्फ रोहित गुदा हुआ था। पुलिस ने शव कब्जे में लेकर उसे पोस्टमार्टम के लिए भेजा । पोस्टमार्टम की रिपोर्ट आने से पहले ही यह तथ्य सामने आया कि युवक का शव यहां लाकर फेंका गया है।सीओ सिटी अभय प्रताप सिंह ने इस बात की पुष्टि कि श्रवणनाथ नगर के करीब गेस्टहाउस में युवक की हत्या कर शव यहां फेंका गया है।

पुलिस ने घटना में शामिल रहे गेस्ट हाउस के मैनेजर अरुण पुत्र ओमप्रकाश निवासी मिर्जापुर किरतपुर बिजनौर, किशोर पुत्र संजय अग्रवाल निवासी राजीव नगर ज्वालापुर, मोहित उर्फ उमेश सैनी पुत्र कृपाल सिंह सैनी निवासी रेहड़ बिजनौर हाल निवासी नयागांव ज्वालापुर और कन्हैया पुत्र देवी चंद्र निवासी हरिपुर कला रायवाला देहरादून को पकड़ लिया गया है।घटना वाले दिन गेस्ट हाऊस संचालक ने एक महिला को यात्री के कमरे में भेजा था, जो जिस्मफरोशी के धंधे में लिप्त है।

पुलिस ने महिला को भी ढूंढ निकाला था, जिससे पूछताछ में यह बात साफ हो गई। सामने आया कि गेस्ट हाउस संचालक रमेश ने ही महिला को जिस्मफरोशी के मकसद से बुलाया था।सीओ सिटी ने बताया कि मैनेजर ने ऑटो रिक्शा चालक उमेश सैनी होटल के धोबी कन्हैया एवं परिचित किशोर के साथ मिलकर शव को ले जाकर बलकेश्वर मार्ग पर फेंक दिया और रोडवेज बस स्टैंड पहुंच गए। उन्होंने यह भी बताया कि मृतक के पास काफी रकम थी। जिसकी जानकारी रमेश को थी संभवत रकम हड़पने के चक्कर में ही हत्या कर दी गई है लेकिन होटल का संचालक रमेश चंद्र की गिरफ्तारी के बाद ही हत्या का खुलासा हो पाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *