पुलिसकर्मियों की ग्रेड पे मांग का सुराज सेवा दल ने किया समर्थन,डीजीपी के माध्यम से मुख्यमंत्री को भेजा ज्ञापन, जानिए

सुमित यशकल्याण

देहरादून। प्रदेश में पुलिस कर्मियों की चला रही ग्रेड पे की मांग एक बार फिर जोर शोर से उठने लगी है, लंबे समय से पुलिस कर्मियों को ग्रेट पे दिए जाने की मांग का समर्थन कर रहा सुराज सेवा दल ने आज देहरादून में पुरजोर से पुलिस कर्मियों को ग्रेड पे दिए जाने की मांग की, उन्होंने पुलिस महानिदेशक के माध्यम से मुख्यमंत्री पुष्कर सिंह धामी को ज्ञापन भेजकर जल्द से जल्द पुलिस कर्मियों की मांग पूरी की जाने की मांग की है सुराज सेवादल के अध्यक्ष रमेश जोशी द्वारा मुख्यमंत्री को भेजा गया ज्ञापन

सेवा में
श्रीमान माननीय मुख्यमंत्री उत्तराखंड सरकार
द्वारा पुलिस महानिदेशक उत्तराखंड प्रदेश


विषय-: उत्तराखंड पुलिस के सस्पेंड जवानों को तत्काल प्रभाव से बहाल करने एवं 4600 पे ग्रेड देने के संदर्भ में


महोदय
आपको सादर अवगत कराना है कि जब तत्कालीन मुख्यमंत्री श्री त्रिवेंद्र रावत जी उत्तराखंड सरकार में मुख्यमंत्री थे तो आपने अपने लेटर पैड पर आपके ही द्वारा लिख कर दिया गया था कि पुलिस के जवानों को 4600 ग्रेड पर मिलना चाहिए और आपके द्वारा दो बार घोषणाएं भी की गई तो आज क्यों उनका हक नहीं मिल पा रहा है, महोदय आप एक ऊर्जावान युवा मुख्यमंत्री हैं जब आप मुख्यमंत्री बने तो आप कल्पना नहीं कर सकते कि मुझे कितनी खुशी मिली आपको अगर याद हो या याद करने की कोशिश करें तो शायद आपको याद आएगा, होली का वह दिन जब त्रिवेंद्र जी अजय भट्ट जी धन सिंह रावत जी रमेश पोखरियाल निशंक जी में मुख्यमंत्री बनने की होड़ लगी थी और आप खटीमा से देहरादून आ रहे थे तो मेरे द्वारा दिनांक 13 मार्च 2017 को सायं काल 3:45 आपके मोबाइल पर कॉल किया गया और आपको आपकी शक्ति का एहसास दिलाया और आपसे कहा था कि आप भी मुख्यमंत्री बन सकते हैं आप भी दौड़ में शामिल हो जायेंगे, आप चौके और आपने कहा क्या मैं, महोदय उस समय शायद आप शामिल नहीं हुए लेकिन आप आज दोबारा मुख्यमंत्री बने हैं।

महोदय उत्तराखंड ने कई ऊर्जावान नेता दिए प्रधानमंत्री की दौड़ तक पहुंचे ,लेकिन अपने ही लोगों के छलावे के कारण प्रधानमंत्री नहीं बन पाए सबसे ज्यादा और कुशल नेतृत्व है उत्तराखंडीयों में पंडित गोविंद बल्लभ पंत जी हेमवती नंदन बहुगुणा जी पंडित नारायण दत्त तिवारी जी और श्री योगी आदित्यनाथ जी समाजवादी पार्टी बहुजन समाजवादी पार्टी तो मात्र चंद दिन ही रही lआप एक कुशल नेतृत्व प्रतिभावान मुख्यमंत्री हैं युवा भी हैं आप क्यों नहीं प्रधानमंत्री का लक्ष्य रखते राजनीति द्वेष भाव से नहीं सेवा भाव से की जाती है पंडित नारायण दत्त तिवारी जी आपके व राजनेताओं के लिए उदाहरण हैं और आप भली-भांति जानते हैं क्या कभी किसी ने सोचा था हरीश रावत जी और रंजीत रावत जी के बीच इतनी बड़ी खाई पैदा हो जाएगी, लेकिन इतिहास गवाह है पैसा कभी किसी का नहीं हुआ, कम कमाना अपने लिए और ज्यादा कमाना दूसरों के लिए आप अपने प्रतिद्वंदीयों की चाल को शायद समझ नहीं पा रहे हैं, पुलिस सिपाही आपके रीड की हड्डी हैं या तो आपके पास सलाहकार बहुत ज्यादा बुद्धिमान नहीं है या फिर वह आपको कह नहीं पा रहे हैं आप सत्ता हैं हम आपके नाखून के बराबर भी नहीं है छोटा सा दल है शायद आज विधानसभा में नहीं लेकिन विधानसभा के बाहर विपक्ष की भूमिका मजबूती से सुराज सेवा दल लगातार निभा रहा है समय-समय पर आपको ज्ञापन धरनों मीडिया के माध्यम से तर्क पूर्ण रूप से हो रहे विरोधाभास से अवगत कराता है और आज इसी रूप में सिपाहियों की नाखुशी के रूप में अवगत करा रहा है आप आपातकाल के वह दिन याद कर लीजिए देश में आपातकाल भी लगी थी, आप कहीं का भी बजट रोक दें परंतु सिपाहियों के ग्रेड पे को ना रोके अन्यथा प्रदेश के हालत बद से बदतर हो जाएंगे और प्रतिद्वंदी इसका भरपूर लाभ उठाएंगे, तत्काल प्रभाव से मांगे पूरी नहीं हुई तो सुराज सेवा दल भी उत्तराखंड के अधिकारों के लिए पुलिस सिपाहियों के समर्थन में प्रदेश व्यापी आंदोलन के लिए मजबूर होगा l
धन्यवाद
भवदीय

रमेश जोशी, अध्यक्ष, सुराज सेवा दल

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!