बड़ी खबर। प्रदेश में बारिश के अलर्ट के चलते हरिद्वार में फंसे 35000 तीर्थयात्री, बारिश जारी…

हरिद्वार / सुमित यशकल्याण।

हरिद्वार। मौसम विभाग द्वारा जारी किए गए अलर्ट के मुताबिक हरिद्वार जिले में रविवार की सुबह से ही तेज बारिश का क्रम लगातार जारी है।
सोमवार को भी सुबह से ही बारिश जारी रही जिससे कई इलाकों में जलभराव हो गया। पूरे जिले में गंगा तट के आसपास स्थित गांव और जलभराव वाले अन्य इलाकों में सतर्कता बरतने के निर्देश दिए गए हैं।

राहत एवं बचाव कार्य शुरू करने के लिए प्रशासन द्वारा राजस्व और पुलिस प्रशासन को सतर्क कर दिया गया है। एसडीआरएफ की कई टीमों के साथ-साथ पुलिस पीएससी और जल पुलिस के जवानों को भी सतर्क किया गया है। सुबह से लगातार बारिश का दौर जारी है बारिश का सबसे ज्यादा असर धान की फसलों पर पड़ा है। अधिकतर खेतों में धान की फसल जमीन पर गिर गई। इस बीच चारधाम यात्रा पर जा रहे और हरिद्वार में गंगा दर्शन तथा अन्य धार्मिक प्रयोजनों से आए करीब 35000 से ज्यादा श्रद्धालु हरिद्वार में ही फंस गए हैं क्योंकि मौसम खराब होने के चलते प्रशासन द्वारा उद्घोषणा करा दी गई है कि कम से कम यात्री ही चार धाम यात्रा पर जाएं। हरकी पैड़ी क्षेत्र में पुलिस विभाग की ओर से उद्घोषणा करके अधिक से अधिक श्रद्धालुओं को वापस लौटने के लिए कहा गया है।

यात्रियों के हरिद्वार में फंस जाने के कारण जिला पर्यटन अधिकारी सीमा नौटियाल ने सभी होटल और धर्मशाला वालों संचालकों से आग्रह किया है कि जो यात्री हरिद्वार में फंस गए हैं उन्हें अपने यहां ठहराने में मदद करें और अधिक से अधिक छूट भी किराए में प्रदान करें। जिला पर्यटन अधिकारी सीमा नौटियाल ने बताया कि प्रशासन लगातार हर स्थिति पर नजर रखे हुए हैं जिस भी यात्री को कोई भी दिक्कत परेशानी हो रही है उसकी तुरंत मदद की जा रही है वहीं दूसरी ओर जिला आपदा प्रबंधन अधिकारी मीरा कैंतूरा ने बताया कि बारिश के कारण जिले में कहीं भी कोई जनहानि होने की खबर नहीं है। अलबत्ता पूरा प्रशासन सतर्क है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *