कुंभ मेले की एस ओ पी के विरोध में दो आचार्य महामंडलेश्वर सहित कई महामंडलेश्वर और सन्तो ने खोला सरकार के खिलाफ मोर्चा, जानिए

Haridwar/ Sumit Yashkalyan

हरिद्वार कुम्भ मेला। कुम्भ मेले को लेकर सरकार द्वारा जारी की गई SOP का विरोध अब तेज हो गया है, महानिर्वाणी अखाड़े के पीठाधीश्वर आचार्य राजगुरु स्वामी विशोकनन्द भारती और अटल अखाड़ा के पीठाधीश्वर आचार्य महामंडलेश्वर राजगुरु स्वामी विश्वात्मानंद सरस्वती के सानिध्य में सभी अखाड़ों के महामंडलेश्वरओ ने बैठक कर एस ओ पी को संशोधित करने की मांग की है।

कनखल की राजपूत धर्मशाला में सभी ने संयुक्त रूप से SOP में संशोधन करने की मांग उठाते हुए कहा कि मुगलों और अंग्रेजों ने भी कुंभ मेले में धार्मिक आयोजनों पर प्रतिबंध नहीं लगाया था, लेकिन सरकार हरिद्वार महाकुंभ में कड़े नियम लागू कर श्रद्धालुओं के साथ अन्याय कर रही है, उन्होंने कहा कि प्रयागराज माघ मेले और वृंदावन में वैष्णव कुंभ में लाखों लोगों ने भाग लिया, राजनीतिक रैलियों में भी लाखों लोग जुट रहे हैं, ऐसे में कुंभ मेले को लेकर सरकार ने जो s.o.p. जारी की है उससे श्रद्धालुओं को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा ।जिसको लेकर सभी ने एस ओ पी के संशोधन की मांग उठाई है,

इस मौके पर पूर्व नगरपालिका अध्यक्ष सतपाल ब्रह्मचारी, निर्मल पीठाधीश्वर श्री महंत ज्ञान देव शास्त्री ,महामंडलेश्वर स्वामी अर्जुन पुरी, महानिर्वाणी अखाड़े के सचिव महंत रवींद्र पुरी, महामंडलेश्वर स्वामी रामेश्वरनंद सरस्वती, महामंडलेश्वर कमलानंद गिरि, प्रेमानंद , विश्वेश्वरनंद, आनंद चैतन्य, चिदंबरानंद सरस्वती, स्वामी अभयानंद सरस्वती, शिव प्रेमानंद पूरी ,स्वामी गिरिधर, शारदा गिरी, सच्चिदानंद गिरी, प्रेमानंद, स्वामी रामानंद गिरि,स्वामी रवि देव शास्त्री आदि मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!