बिना अन्न ग्रहण किये पांचवे दिन भी चतुर्थ श्रेणी राज्य कर्मचारियों का आंदोलन जारी, जानिए…

हरिद्वार / सुमित यशकल्याण।

हरिद्वार। चतुर्थ श्रेणी राज्य कर्मचारी संघ चिकित्सा स्वास्थ्य सेवाएं उत्तराखंड का आंदोलन बिना अन्न ग्रहण किये बिना पांचवें दिवस भी जारी रहा। कर्मचारियों ने मेला चिकित्सालय परिसर में अपनी मांगों के लिए नारेबाजी कर आक्रोश प्रकट किया।

प्रदेश अध्यक्ष दिनेश लखेड़ा, जिलाध्यक्ष शिवनारायण सिंह, जिला मंत्री राकेश भँवर, वरिष्ठ सलाहकार सुरेश चंद ने कहा कि स्वास्थ्य महानिदेशालय से आर-पार की लड़ाई है, कर्मियों का शोषण अब बर्दास्त नही किया जाएगा जब तक पदोन्नति और हाई स्कूल से कम कर्मचारियों को उद्यान विभाग के माली की भांति टेक्निकल किया जाना चाहिए।

जिला वरिष्ठ उपाध्यक्ष जीवन भगत, ऑडिटर शीशपाल, कोषाध्यक्ष अजय कुमार ने कहा कि आयुर्वेद विश्वविद्यालय के कर्मचारियों के वेतन समय पर ना दिया जाना, एसीपी का लाभ ना दिया जाना, सेवानिवृत्त कर्मचारियों के पेंशन और देयकों का भुगतान कई वर्षों से लंबित होना, इसलिये डीडीओ कोड बहाल किया जाना आवश्यक है जिससे कर्मचारियों के वेतन संबंधी कार्य समय से पूर्ण हो सकें जल्द ही निस्तारण ना होने की दशा में आंदोलन उग्र होगा।

बिना अन्न ग्रहण किये अपना विरोध प्रकट करने वालों में शिवनारायण सिंह, दिनेश लखेड़ा, मूलचंद चौधरी, शीशपाल, सुखपाल सिंह, खुशाल मणि,रामरतन, सुरेश चंद, सचिन, मुकेश, राजेन्द्र तेश्वर, बद्रीप्रसाद, कमल, कामेंद्र, अजय रानी, रजनी, सुदेश, बाला, ममता आदि ने अपना आक्रोश व्यक्त किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *