पहले शाही स्नान को लेकर अखाड़ा परिषद और मेला आई जी के बीच हुई बैठक, ये व्यवस्था हुई तय, जानिये

सुमित यशकल्याण

हरिद्वार। आईजी कुम्भ श्री संजय गुंज्याल, एसएसपी कुम्भ जन्मजेय खंडूरी, एसएसपी हरिद्वार सैंथिल अबुदाई कृष्ण राज एस एवं कुम्भ मेला पुलिस के अन्य अधिकारीगण के द्वारा निरंजनी अखाड़े में जाकर अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष सहित अन्य पदाधिकारियों के साथ आगामी 11 मार्च 2021 को होने वाले शाही स्नान पर्व शिवरात्रि की व्यवस्थाओं और शाही स्नान के प्रबंधन के सम्बंध में विचार-विमर्श किया गया।

विचार-विमर्श के दौरान यह तय हुआ कि शाही स्नान जुलूस के साथ आगे पीछे एक-एक दरोगा वायर लैस के साथ मौजूद रहेगा ताकि जुलूस की सही स्थित पता चल सके। शाही स्नान जुलूस के दोनो ओर रस्सा रहेगा ताकि अखाड़े के अलावा अन्य कोई व्यक्ति जुलूस में शामिल न हो सके। शाही स्नान जुलूसों के आगे-पीछे चलते समय जुलूस आपस मे मिल न जाएं उसके लिए जुलूस के आगे पीछे 4-4 घोड़े ड्यूटी पर रहेगें। कुछ अन्य विषयों पर भी दोनो पक्षों के मध्य मन्त्रणा हुई। हर अखाड़े को नियमानुसार VIP पास दिए जाना भी तय हुआ।

इसके अलावा यह भी निश्चित हुआ कि अखाड़ा परिषद और कुम्भ पुलिस के मध्य कुम्भ मेला के आयोजन के दौरान जो भी विषय सामने आएंगे उनके सकारात्मक समाधान के लिए दोनो पक्ष समन्वय बनाते हुए कार्यवाही करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!