नाली खुलवा दो साहब, नहीं तो कर लूंगी आत्महत्या, बरसात का घर में भरा हुआ है पानी, विधवा महिला ने सुनाई आपबीती, जानिए मामला…

हरिद्वार / सुमित यशकल्याण।


हरिद्वार। दो दिन हुई बारिश से आर्यनगर के आधा दर्जन घरों में पानी घुस जाने से काफी नुकसान झेल रहे आधा दर्जन परिवारों ने कहा है कि अगर उनकी समस्या का शीघ्र समाधान नही हुआ तो जिलाधिकारी कार्यालय पर धरना देकर आत्मदाह कर लेंगे। सर्वाधिक पीड़ित विधवा महिला पार्वती नेगी, माकपा नेता वीे.के.सिंह सहित कई पीड़ित लोगों ने मंगलवार को प्रेस क्लब में पत्रकारों से वार्ता करते हुए कहा कि भाजपा में शामिल नही होने का खामियाजा अब भुगत रहे है। उन्होने बताया कि करीब दो माह पूर्व लोक निर्माण विभाग द्वारा सड़क निर्माण के दौरान स्थानीय भाजपा पार्षद एवं उनके तीन चार समर्थकों द्वारा वर्षों से खुली नाली को बंद करा दिया गया था। निर्माण के दौरान नाली बंद करने का विरोध किये जाने को अनसुना कर दिया गया। बताया कि भाजपा पार्षद द्वारा भाजपा में शामिल होने का दबाव बनाया जा रहा है लेकिन शामिल होने से इनकार करने का खामियाजा आधा दर्जन से अधिक परिवार भुगतने को विवश है। पिछले दो दिनों से जारी मूसलाधार बारिश के कारण इन परिवारों के घरों में पानी घुस जाने से काफी नुकसान हो गया लेकिन इन परिवारों की पीड़ा का समाधान फिलहाल होता नजर नही आ रहा है। पीड़ित परिवारों ने आरोप लगाया कि कुछ दिन पूर्व लोक निर्माण विभाग के दो अधिकारी मौके पर पहुंचकर नाली खोलने का प्रयास करने लगे लेकिन स्थानीय भाजपा पार्षद एवं भाजपा प्रदेश अध्यक्ष के समर्थको, अराजक तत्वों द्वारा नाला खोलने नही दिया जा रहा है। विधवा महिला ने कहा कि इस समस्या को लेकर उन्होने जिलाधिकारी को पत्र देकर समाधान की मांग की लेकिन फिलहाल समस्या का समाधान नही हो रहा है। पिछले दो दिनों से जारी बारिश के कारण घरों में पानी के घुसने से काफी नुकसान हो चुका है। चेतावनी दी कि अगर समस्या का शीघ्र समाधान नही हुआ तो वे जिलाधिकारी कार्यालय पर पीड़ित परिवारों के साथ धरना देकर आत्मदाह करने को विवश होंगे।

वार्ता के दौरान तेजस्वी गुप्ता, राजेन्द्र गुप्ता, त्रिपाल शर्मा, अनिल कुमार, राजेन्द्र गुप्ता, आरती सहित कई मौजूद रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *