कुत्ते का मेडिकल कराने को लेकर मालकिन 5 दिन से काट रही है चक्कर, पशु चिकित्सक पर रिश्वत मांगने का आरोप, जानें पूरा मामला

सुमित यशकल्याण

सुविधा शुल्क नही तो मेडिकल भी नही ,,,,

हरिद्वार। ऐसा ही एक मामला आया हैं सदर पशु चिकित्साधिकारी डॉ0 सावन पनवर का, रानीपुर कोतवाली में एक मुकद्दमा दर्ज कराया हैं पियुपल्स फ़ॉर एनिमल्स संस्था हरिद्वार ने जिसमे एक महिला अपने पालतू कुत्ते को घुमा रही थी ,वही घात लगाए एक व्यक्ति ने डंडे से जानलेवा हमला कर दिया जिसका वीडियो भी वायरल हुआ था जिस पर रानीपुर कोतवाली द्वारा मुकद्दमा पंजीकृत कर महिला और कुत्ते का मेडिकल कराने को दो पत्र लिखे एक हरि मिलाप हॉस्पिटल ओर सदर पशु चिकित्सा अधिकारी को महिला का तो मेडिकल बन गया लेकिन दिनांक 09, 03, 2021 से वर्तमान तक पांच दिन बीतने के बाद भी पशु चिकित्सा अधिकारी डॉ सावन पनवर द्वारा कुत्ते का मेडिकल के लिए सुविधा शुल्क की मांग कि, संस्था के आदित्य शर्मा द्वारा सुविधा शुल्क ना देने पर ,पांच दिनों से चक्कर कटा रहे हैं अपने पद का दुरुपयोग कर दर्ज हुए केस को प्रभावित कर रहे हैं और प्रार्थी ओर पीड़ित महिला का मानसिक शोषण व आर्थिक शोषण करते हुए सरकारी कार्यो में जानबूझ कर बाधा उतपन्न कर रहे हैं । डॉ साहब कभी मीटिंग में बताते हैं तो कभी श्याम को बुलाते है तो कभी परफॉर्मा ना होने का बहाना बनाते है और कभी सुबह अस्पताल बुलाते है अस्पताल जाए तो डॉ साहब मुहर घर भूल आते हैं अब पांच दिनों बाद उनका कहना हैं आप पुलिस को साथ नही लाये इस लिए नही बनाया ,,,,इस लिए आज दिनांक 13 ,03, 2021 को प्रार्थी द्वारा पुलिस को ही डॉ सावंत की शिकायत नगर कोतवाली हरिद्वार में दर्ज कराई गई हैं ।

आदित्य शर्मा का कहना हैं कि पियुपल्स फ़ॉर एनिमल्स सस्था हरिद्वार में बेजुबान जानवरो व असहाय या लावारिस किसी भी जानवरो की निशुल्क सेवा करती हैं । ओर पिछले 10वर्षो से हरिद्वार में कार्यरत हैं ।

उक्त प्रकरण की शिकायत आज दिनांक 13, 03 ,2021 को नगर कोतवाली हरिद्वार के संमझ लिखित रूप में दी गई हैं जिसमे प्रार्थी द्वारा लिखा गया हैं कि पशु चिकित्साधिकारी द्वारा अपने पद का दुरुपयोग करने व पीड़ित महिला और आदित्य शर्मा का मानसिक व आर्थिक शोषण करने तथा मेडिकल के लिए सुविधा शुल्क की मांग करने ऐवम सरकारी कार्यो ( रानीपुर कोतवाली में पंजिकृत केस ) में पांच दिनों में भी मेडिकल ना बना कर सरकारी कार्यो में जानबूझ कर बाधा उतपन्न करने पर उचित कार्यवाही करते हुए , पंजिकृत के लिए कुत्ते का मेडिकल बनाने की कृपा करें ।

आदित्य शर्मा का कहना हैं कि ऐसे भृष्ट अधिकारी की शिकायत जिलाधिकारी हरिद्वार और मुख्य चिकित्सा अधिकारी हरिद्वार से ओर पशु कल्याण मंत्री उत्तराखण्ड सरकार व पियुपल्स फ़ॉर एनिमल्स की अध्यक्ष श्री मति मेनका गांधी से भी कर के नियमानुसार उचित कार्यवाही अमल में लाई जाएगी ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error: Content is protected !!