ब्रह्माकुमारीज ने की शांति व सद्भावना के लिए आध्यात्म-मीडिया की भूमिका पर सेमिनार…

हरिद्वार। शनिवार को ब्रह्माकुमारीज ऋषिकुल हरिद्वार में मीडिया सेमिनार एवं सम्मान समारोह आयोजित किया गया, जिसमे शांति व सद्भावना के लिए आध्यात्म-मीडिया की भूमिका पर चर्चा की गई।ब्रह्माकुमारीज की हरिद्वार सेवा केंद्र प्रभारी बी.के. मीना दीदी की अध्यक्षता में आयोजित सेमिनार में मुख्य अतिथि रानीपुर विधायक आदेश कुमार चौहान ने माना कि देश-दुनिया मे हिंसा, अपराध रुक सकते है अगर पत्रकारिता पूर्वाग्रहों से ग्रसित न हो। उन्होंने ब्रह्माकुमारीज को विश्व मे शांति व सद्भाव की अंतरराष्ट्रीय संस्था बताते हुए कहा कि उन्होंने भी डेढ़ दशक पत्रकारिता को दिए हैं, लेकिन उस समय की पत्रकारिता व आज की पत्रकारिता में व्यापक बदलाव आया है, जिसमे सोशल मीडिया पर स्वनियंत्रण की आवश्यकता है।

माउन्ट आबू से आई मिडिया विंग की कार्यकारी सदस्य बी.के. वैशाली बहन ने पत्रकारों को व्यवहारिक सकारात्मक पत्रकारिता के लिए प्रेरित किया। वहीं माउंट आबू से आए ब्रह्माकुमारीज मिडिया विंग के राष्ट्रीय संयोजक बी.के. शांतनु ने कहा कि हमें सकारात्मक सोचना है और देश-दुनिया मे शांति व सद्भाव के लिए कलम चलानी है, तभी लोकतंत्र का यह चौथा स्तम्भ शेष अन्य तीन स्तंभों को मार्गदर्शित कर सकता है। उन्होंने जानकारी दी कि ब्रह्माकुमारीज तनाव रहित पत्रकारिता के लिए मीडिया को तैयार करने में जुटी है। मुख्य वक्ता विक्रमशिला हिंदी विद्यापीठ के प्रति कुलपति डॉ. श्रीगोपाल नारसन ने कहा कि पत्रकार भी एक जिम्मेदार नागरिक है, इसलिए उन्हें ऐसी खबर परोसनी चाहिए जो शांति व सद्भाव कायम करती हो।

चंडीगढ़ से आए वरिष्ठ पत्रकार अरुण नैथानी ने कहा कि पत्रकारिता का देश की आजादी में बड़ा योगदान रहा है, दैनिक ट्रिब्यून उसका एक बड़ा उदहारण है। उन्होंने भी विषय के पक्ष में अपने विचार व्यक्त किए। देहरादून के वरिष्ठ पत्रकार कुंवर राज अस्थाना ने यूक्रेन व फिलिस्तीन युद्ध का जिक्र करते हुए कहा कि वहां से जो मीडिया परोस रहा है, उसी पर हम यकीन कर रहे हैं। उन्होंने मीडिया की विकासात्मक भूमिका की जरूरत बताई। वरिष्ठ पत्रकार चन्द्रकिरण वर्मा ने भी पत्रकारों के राष्ट्र के प्रति योगदान पर चर्चा की। राजयोगिनी बी.के. मीना दीदी ने सभी को राजयोग का अभ्यास कराकर पत्रकारों को आध्यात्म से जुड़ने के लिए प्रेरित किया।

राजयोगी बी.के. सुशील भाई के कुशल संचालन में सभी अतिथियों व मौजूद पत्रकारों का शॉल ओढ़ाकर सम्मानित किया गया। सेमिनार में यह भी चर्चा हुई कि जान जोखिम में डालकर सच सामने लाने वाले पत्रकारों को अपने काम के दौरान तनाव के दौर से गुजरना पड़ता है, वही नकारात्मक खबरों का प्रभाव भी पत्रकारों की निजी जिंदगी पर पड़ता है जिस कारण कई बार वे अवसाद तक का शिकार हो जाते हैं।पत्रकारों की इन्ही सब समस्याओं के समाधान के लिए ब्रह्माकुमारीज संस्था उत्तराखंड में जगह-जगह पत्रकारों को तनाव मुक्ति के गुर सिखाने का अभियान चला रही है। जिसके तहत कल 05 नवंबर रविवार को सुबह साढ़े दस बजे ‘सकारात्मक परिवर्तन के लिए जागरूक मीडिया’ विषय पर मीडिया सेमिनार एवं सम्मान समारोह ब्रह्माकुमारीज सेवा केंद्र महावीर एनक्लेव रुड़की में केंद्र प्रभारी बी.के. गीता दीदी के मार्गदर्शन में आयोजित किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
adaxbetgiris.comantalya escortlarantalya travestileridoandırıcı daname bonuzuu zteamdoandırıcı daname bonuzuu zteatem am sikik sokuk sikiş videoФакты об интернет-знакомствах, которых вы не зналиDenamabonzzzi zteam dolandırıcı got heriflergaziantep escortSahabet girişGüvenilir Slot Siteleri ilbet girişgaziantep escortdeneme bonusu veren bahis siteleribahis sitelerideneme bonusubahis siteleribahis siteleribetturkeybetmatikbetgit girişpashacasino girişcasino sitelerikıbrıs escortSahabet güncel giriş adresibetgitbahis siteleribonus veren siteler