रुड़की उप कारागार के बंदी रक्षक को जिंदा जलाने की धमकी, मुकदमा दर्ज।

हरिद्वार/तुषार गुप्ता

रुड़की उप कारागार में बंदी रक्षक के पद में काम करने वाले को फोन पर परिवार सहित जान से मारने की धमकी मिली है। आरोपित ने हाल ही में धमकी देते हुए खुद को पुलिसकर्मी भी बताया था। लेकिन जब बंदी रक्षक गंगा नहर कोतवाली धमकी देने वाले पुलिसकर्मी का पता लगाने गए तो कोतवाली के किसी कर्मी ने फोन नहीं किया था। इसके बाद बंदी रक्षक ने उच्च अधिकारियों को फोन करके अपनी आपबीती बताई और अपने साथ साथ परिवार की जान को खतरा बताते हुए सुरक्षा की मांग की। मामले में पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।

पिछले कुछ समय से ही बंदी रक्षक मोहम्मद इमरान को मोबाइल पर व्हाट्सएप मैसेज और व्हाट्सएप कॉल के जरिए जान से मारने की धमकी मिल रही थी। पहले तो उन्होंने मजाक समझ कर ध्यान नहीं दिया। लेकिन जब आरोपित ने मुरादाबाद स्थित उनके घर में आग लगाने और परिवार सहित जिंदा जलाने की धमकी दी तो उनकी रूह कांप गई। अप पुलिस ने अज्ञात आरोपी के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *